न्याय के आगे बाबा की वासना का हुआ अंत

10 साल की जेल हुई राम-रहीम को, अब डेरा पर होगा महिला-शासन!

Parixit Gangrade

Featured News

पंचकूला CBI कोर्ट ने गुरमीत राम रहीम को भारतीय दंड संहिता (IPC) की तीन धाराओं 376 (दुष्कर्म), 506 (डराने-धमकाने) और 509 (महिला की इज्जत से खिलवाड़) के तहत दोषी ठहराया है। सजा सुनाने के लिए रोहतक की सुनारिया जेल में दोपहर बाद 2.30 बजे CBI के विशेष जज जगदीप सिंह की विशेष कोर्ट लगाई गई, जिसमें गुरमीत राम रहीम को 10 साल की जेल की सजा मुकर्रर कर दी गई है। 15 साल पुराने इस मामले में काफी सब्र रखने के बाद और मौतों तथा हिंसा के तांडव बाद आज पीडि़त साध्वियों को न्याय मिलेगा।

उपद्रवियों को गोली मारने के आदेश

फैसले को लेकर पंजाब-हरियाणा क्षैत्र हाई अलर्ट पर हैं। स्कूलों-कॉलेजों में छुट्टी है। इंटरनेट सेवाएं व इंटर स्टेट बस सेवा भी बंद रहेगी। बसों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। इंटरनेट सेवा पर रोक मंगलवार सुबह 11.30 बजे तक जारी रहेगी। पुलिस और सुरक्षा बलों को मौके पर ही तुरंत एक्शन लेने व उपद्रवियों को गोली मारने के आदेश दिए गए हैं। हेलीकॉप्टर व ड्रोन से नजर रखी जाएगी। अर्धसैनिक बलों की 23 कंपनियां तैनात की गई हैं। सेना स्टैंड बाई पर रहेगी।

जज जगदीप सिंह सजा सुनाकर हेलीकॉप्टर से पंचकूला पहुंचा दिए जाएंगे

CBI के विशेष जज जगदीप सिंह हेलीकॉप्टर के जरिए पंचकूला से रोहतक में स्थित सुनारिया जेल पहुंचे, उनकी सुरक्षा में SP स्तर के अधिकारी एवं कमांडो तैनात हैं। सजा सुनाने के बाद उन्हें हेलीकॉप्टर से पंचकूला पहुंचा दिया जाएगा।

डेरा के व राम रहीम के खाते सीज

पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट के निर्देश के बाद डेरा सच्चा सौदा व राम रहीम के निजी बैंक खातों को सीज कर दिया गया है। डेरामुखी, उनके करीबियों व कर्मचारियों के अकाउंट के बाद 3 बैंकों के खातों के रिकॉर्ड भी खंगाले जा सकते हैं। डेरे का सबसे ज्यादा लेन-देन OBC और HDFC बैंक में हुआ है। इसके अलावा कई बैंकों में खाते हैं। कई फर्मों के नाम पर बैंकों से लेन-देन हुआ है।

नेक्स्ट पेज पर : जानिए कौन बन सकता है अगला डेरा प्रमुख?

क्या गुरमीत के पुत्र-पुत्री अथवा कथित दत्तक पुत्री बन सकते हैं डेरा प्रमुख?

उनकी अरबों रु. के साम्राज्य के उत्तराधिकारी को लेकर डेरे के भीतर और बाहर चर्चाएं जोरों पर हैं। क्योंकि डेरे का एक नियम है जिसके मुताबिक डेरा प्रमुख के परिवार का ही व्यक्ति उत्तराधिकारी नहीं हो सकता। राम रहीम की दो बेटियां अमरप्रीत कौर इंसां, चरनप्रीत कौर इंसां और एक बेटा जसमीत सिंह इंसां हैं।

प्रियंका तनेजा उर्फ़ हनीप्रीत इंसां

इसके अलावा गुरमीत ने एक अन्य युवती को बेटी के तौर पर गोद ले रखा है, जिसका नाम है हनीप्रीत इंसां। डेरे से जुड़े लोगों की मानें तो अरबों रु. के साम्राज्य पर हनीप्रीत का दावा सबसे मजबूत है। इसकी वजह यह है कि हनी डेरे के कामकाज में राम रहीम के काफी करीब रही हैं। प्रियंका तनेजा से हनीप्रीत बनी हरियाणा के फतेहाबाद की इस युवती ने डेरा प्रमुख के साथ कई फिल्मों में भी काम किया है। शुक्रवार को जब अदालत से गुरमीत को जेल भेजा गया तो हेलिकॉप्टर में हनीप्रीत भी साथ में थी और डेरा प्रमुख के साथ उनका बैग लेकर चल रही थी। किन्तु चूँकि परिवार के सदस्य के डेरा प्रमुख न बनने का नियम है, और अगर वे क़ानूनी रूप से गुरमीत की वैध दत्तक पुत्री हैं, तो हनीप्रीत के उत्तराधिकार की दौड़ में भी यह नियम आड़े आ सकता है। प्रियंका तनेजा उर्फ़ हनीप्रीत की शादी डेरा के ही अनुयायी रहे विश्वास गुप्ता से 1999 में हुई थी, लेकिन अब दोनों अलग हैं। 2011 में विश्वास गुप्ता ने कोर्ट में केस दायर कर गुरमीत और हनीप्रीत में अवैध संबंधों का आरोप लगाया था।

ब्रह्मचारी विपश्यना बनेगी डेरा प्रमुख!

उक्त आकलन से डेरे में गुरमीत राम रहीम के बाद दूसरे नंबर पर मानी जाने वाली ब्रह्मचारी विपश्यना का दावा बेहद मजबूत माना जा रहा है। वह फिलहाल डेरे की चेयरपर्सन है और उसकी सामाजिक गतिविधियों का काम देखती है। विपश्यना गुरमीत के करीब होने के साथ ही, परिवार की सदस्य भी नहीं है। इसलिए उत्तराधिकारी के तौर पर उसका दावा मजबूत हो सकता है। डेरे के ही गर्ल्स कॉलेज से ग्रैजुएशन करने वाली विपश्यना फिलहाल 250 लोगों की टीम के माध्यम से एडमिनिस्ट्रेशन संभालती है।