Monday, October 23rd, 2017 11:47:00
Flash

पूर्व आरबीआई गर्वनर रघुरामन राजन को मिल सकता है इकोनॉमिक्स का नोबेल




पूर्व आरबीआई गर्वनर रघुरामन राजन को मिल सकता है इकोनॉमिक्स का नोबेलBusiness

Sponsored




रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के पूर्व गर्वनर रघुरामन राजन एक बड़ी उपलब्धि हासिल कर सकते हैं। उन्हें इस साल का इकोनॉमिक्स में नोबेल पुरस्कार प्रदान किया जा सकता है। वॉल स्ट्रीट जर्नल से मिली जानकारी के अनुसार रघुरामन का नाम टॉप 6 की लिस्ट में शामिल हो गया है।


अखबार के अनुसार रघुरामन का नाम उस कंपनी ने नॉमिनेट किया है, जो नोबेल पुरस्कार पाने वाले लोगों की एकेडमिक और साइंटिफिक रिसर्च के डाटार को कंपाइल करती है। हालांकि इसका मतलब ये बिल्कुल नहीं है कि रेस में आगे हैं, लेकिन उनका नाम टॉप 6 की लिस्ट में जरूर है। बता दें कि इकोनॉमिक्स के लिए नोबेल पुरस्कारों की घोषणा सोमवार को की जाएगी। रामन इन दिनों शिकागो यूनिवर्सिटी में बूथ स्कूल ऑफ बिजनेस के प्रोफेसर हैं।

कॉर्पोरेट फाइनेंस के क्षेत्र में लिए अच्छे फैसले-

उन्हें इस पुरस्कार के लिए नॉमिनेट करने का सबसे बड़ा कारण उनके तीन साल का कार्यकाल रहा। साल 2013 में यूपीए सरकार ने उन्हें आरबीआई का गर्वनर घोषित किया था, लेकिन एनडीए सरकार ने उन्हें दोबारा मौका नहीं दिया। लेकिन अपने तीन साल के कार्यकाल में रघुरामन राजन ने कॉर्पोरेट फाइनेंस के क्षेत्र में काफी अच्छे फैसले लिए थे।

बता दें कि राजन एक ऐसे शख्स हैं, जिन्होंने 2008 में अमेरिका में एक भाषण के दौरान दुनिया को आर्थिक मंदी की संभावना जताई थी। उनका ये अनुमान सच हुआ और भारत ने अगले तीन सालों में आर्थिक मंदी का दौर देखा।

किया था नोटबंदी का विरोध

रघुराम राजन ने नरेन्द्र मोदी के बहुचर्चित फैसले नोटबंदी का विरोध किया था। आरबीआई गवर्नर का पद छोड़ने के ठीक एक साल बाद रघुराम राजन ने अपनी किताब ‘आई डू व्हाट आई डू’ में नोटबंदी पर खुलकर लिखा। रघुराम राजन ने लिखा कि, ‘काले धन के खात्मे के लिए भारत सरकार द्वारा अपनाया गया नोटबंदी के फैसले का लंबे समय में फायदा तो हो सकता है लेकिन इससे तुरंत होने वाला नुकसान इस फायदे को खत्म कर देगा।

Sponsored





Follow Us

Yop Polls

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही जानकारी पर आपका क्या नज़रिया है?

Young Blogger

Dont miss

Loading…

Subscribe

यूथ से जुड़ी इंट्रेस्टिंग ख़बरें पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Subscribe

Categories