Monday, October 23rd, 2017 09:45:27
Flash

ये 10 देश कौन-से हैं? जहाँ के नागरिकों से Income Tax नहीं लिया जाता हैं




ये 10 देश कौन-से हैं? जहाँ के नागरिकों से Income Tax नहीं लिया जाता हैंTravel

Sponsored




भारत देश में आयकर विभाग अपने काम को लेकर काफी सक्रिय रहता हैं। मार्च माह से लेकर जुलाई माह के बीच यह कर जमा करने की प्रक्रिया लागू होती हैं जिसमे लाखों व्यक्ति टैक्स जमा करते हैं। आपको बता दें, देश में इनकम टैक्स के 5 से लेकर 30 फीसदी तक टैक्स स्लैब हैं लेकिन आज हम कुछ ऐसे देश के बारे में बात कर रहे हैं जहाँ इनकम टैक्स का भुगतान नहीं करना पड़ता हैं। आइये जानते हैं वें देश के बारे में:-

1) ओमान

सोशल सिक्योरिटी बेनिफिट्स में अपना योगदान देने वाले ओमान के नागरिकों से किसी तरह का आयकर नहीं लिया जाता हैं। अरबी प्रायद्वीप के दक्षिण पूर्व में स्थित  यह देश तेल और गैस का निर्यात करता हैं।

2) क़तर

अमीर देशों में गिने जाने वाला क़तर देश जीडीपी तेल और गैस के निर्यात पर निर्भर हैं। वैसे यहाँ के नागरिकों से आयकर  नहीं लिया जाता हैं।

3) सऊदी अरब

सऊदी अरब की अर्थव्यवस्था गैस और तेल की निर्यात पर निर्भर होती हैं। यहाँ पर लोगों से सोशल सिक्योरिटी पेमेंट्स और कैपिटल गेन टैक्स लिया जाता हैं लेकिन इनकम टैक्स नहीं लिया जाता हैं।

4) संयुक्त अरब अमीरात

बेहतरीन कारीगरी, ऊंची इमारतें और हैरान कर देने वाले आर्किटेक्चर आपको केवल इसी देश में देखने को मिलेगे। आपको बता दें, यह देश जीडीपी तेल और गैस के निर्यात के साथ-साथ पर्यटन पर भी आधारित हैं। वैसे यहाँ पर  किसी भी व्यक्ति से आयकर या फिर कैपिटल टैक्स नहीं लिया जाता हैं।

5)  बहरीन

इस देश के नागरिकों को आयकर छोड़कर सभी प्रकार के टैक्स को जमा करना होता हैं जैसे- किराए पर घर देने, स्टाम्प ड्यूटी,रियल स्टेट के ट्रांसफर पर टैक्स तथा नागरिकों को उनकी आय का 7 प्रतिशत तक का हिस्सा सोशल सिक्योरिटी में देना होता हैं। इसके साथ ही अप्रवासी लोगो को उनकी आय का 1 फीसदी हिस्सा सोशल सिक्योरिटी को देना होता हैं।

6) कुवैत   

कुवैत एक मिडिल ईस्ट देश हैं जहाँ सोशल सिक्योरिटी के लिए निर्देशित राशि जमा करनी होती हैं लेकिन आयकर नहीं देना होता हैं।

7) बहामास

घूमने के लिहाज से बहामास दुनिया का सबसे खूबसूरत देश हैं। वैसे यहाँ के नागरिकों को आयकर नहीं जमा करना पड़ता हैं लेकिन इंपोर्ट ड्यूटी, नेशनल इंश्योरेंश और प्रॉपर्टी टैक्स देना पड़ता हैं।

8) कैमेन आइलैंड्स

क्यूबा और कैरेबियन द्वीप समूह से दूर ये आइलैंड समुद्र के बीचोबीच स्थित हैं जहाँ नागरिक चाहे तो सोशल सिक्योरिटी के लिए राशि दे सकते हैं लेकिन उन्हें आयकर और कैपिटल टैक्स नहीं देना होता हैं। वैसे यहाँ पर इंपोर्ट ड्यूटी देनी पड़ती हैं जिसकी रेंज 25 फीसदी हैं।

9) बारमूडा

दुनिया की सबसे महंगी जगहों में से एक बारमूडा ब्रिटिश शासन के अधीन हैं। वैसे यह एक छोटा टापू हैं जो अटलांटिक महासागर के बीचो-बीच स्थित हैं। आपको बता दें, यहाँ पर लोग अपनी छुट्टियों को एन्जॉय करने के लिए आते हैं। यह वो देश हैं जहाँ आयकर नहीं जमा करना होता हैं लेकिन पेरोल टैक्स, सोशल सिक्योरिटी टैक्स, प्रॉपर्टी टैक्स जरूर देना होता हैं। इसके साथ ही 25 फीसद तक कस्टम ड्यूटी देनी होती हैं।

10) मोनाको

दुनिया का दूसरा सबसे छोटा देश मोनाको, जो स्विट्जरलैंड में स्थित हैं। यहाँ की राजभाषा फ्रेंच हैं। कहा जाता हैं, मोनाकों में करोड़पति लोगों के रहने का धनत्व सबसे ज्यादा हैं लेकिन यहाँ के लोगों से आयकर नहीं लिया जाता है, जब तक कि वह फ्रेंच हैं।

Sponsored





Follow Us

Yop Polls

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही जानकारी पर आपका क्या नज़रिया है?

Young Blogger

Dont miss

Loading…

Subscribe

यूथ से जुड़ी इंट्रेस्टिंग ख़बरें पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Subscribe

Categories